ग्वालियर के 1,657 अध्यापकों की नौकरी खतरे में, हटाने के लिए नोटिस जारी

संवाददाता

ग्वालियर, 25 सितंबर 2015 ।

हाईकोर्ट और सरकार के आदेशों की अवहेलना कर हड़ताल कर रहे जिले के 1,657 अध्यापकों को सेवा से पृथक करने के लिये कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं. कलेक्टर डॉ. संजय गोयल के निर्देश पर यह नोटिस जारी किए गए हैं. अध्यापक एवं संविदा शाला शिक्षकों की हड़ताल को हाईकोर्ट ने असंवैधानिक घोषित किया है.

 

हाईकोर्ट ने हड़ताली अध्यापकों को तत्काल काम पर लौटने के आदेश दिए हैं. राज्य सरकार ने भी शैक्षणिक व्यवस्था एवं छात्रों के हित को ध्यान में रखकर इस हड़ताल को गैर कानूनी घोषित किया है.

 

कोर्ट के आदेश के बावजूद अध्यापकों के काम पर नहीं लौटने पर कलेक्टर डॉ. संजय गोयल ने सख्त रवैया अपनाया है. उन्होंने हड़ताली अध्यापकों एवं संविदा शाला शिक्षकों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिये वैकल्पिक इंतजाम करने के लिये भी जिला शिक्षा अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया हैं.

 

जिला शिक्षा अधिकारी सुभाष शर्मा ने बताया कि शासन आदेशों के विपरीत निरंतर हड़ताल पर रह रहे 1,657 अध्यापकों को सेवा से पृथक करने के लिये संबंधित संकुल प्राचार्यों के माध्यम से कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं. उन्होंने बताया कि गत 13 सितम्बर से ये अध्यापक एवं संविदा शाला शिक्षक हड़ताल पर हैं, इससे बच्चों की पढ़ाई पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है.

Courtesy: Attack News, Ujjain

Leave a Reply

Matt Kalil Jersey 
%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market