सरकारी बंगले में जारी था रिश्वत का खेल, रंगे हाथों पकड़े गए एसडीओ साहब

संवाददाता

टीकमगढ़, 26 सितंबर।

लोकायुक्त पुलिस ने एसडीओ एमएस यादव को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त पुलिस ने एक ठेकेदार की शिकायत पर यह कार्रवाई की।

 

एमएस यादव ने ठेकेदार को रिश्वत की राशि लेकर सुबह घर बुलाया था। ठेकेदार ने पहले ही इसकी जानकारी लोकायुक्त पुलिस को दी थी। डीएसपी केके अग्रवाल के नेतृत्व में एक विशेष दस्ते ने यादव को उनके बंगले पर ही धर दबोचा।

 

डीएसपी केके अग्रवाल ने बताया कि एसडीओ यादव अपने बंगले पर रिश्वत लेते हुए पकड़े गए। एसडीओ ने पुराने बिलों के भुगतान और नई सड़क के निर्माण की स्वीकृति के लिए एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी। रिश्वत की पहली किस्त में 10 हजार रुपए लेते हुए एसडीओ को लोकायुक्त पुलिस ने गिरफ्तार किया।

 

शिकायकर्ता अनिल दूबे के मुताबिक एसडीओ एमएस यादव हर नए काम की स्वीकृति में तीन प्रतिशत कमीशन देने का दबाव बना रहे थे। इसके अलावा पुराने बिल पास करने के एवज में भी रिश्वत मांगी जा रही थी।

 

लोकायुक्त पुलिस ने एसडीओ को गिरफ्तार करने के बाद कार्रवाई पूरी होने पर निजी मुचलके पर रिहा कर दिया। मध्यप्रदेश में पिछले कुछ दिनों में कई भ्रष्ट अफसरों को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इनमें पटवारी और पुलिसकर्मियों की संख्या सबसे ज्यादा है।

Courtesy: Attack News, Ujjain

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market