मुंबई में एक लेडी डॉन गिरफ्तार, लूटमार के दर्जनों मामले दर्ज

संवाददाता
मुंबई, 28 सितंबर 2015
मायानगरी मुंबई के तिलक नगर पुलिस थाने ने एक लेडी डॉन को गिरफ्तार किया है, जिसका नाम है करीमा मुजीब शाह। 45 वर्षीय इस महिला पर मुंबई के विभिन्न थानों में दर्जनों संगीन मामले दर्ज हैं, जिनमें हत्या, लूटमार और जान से मारने की कोशिश के साथ ही पुलिस अधिकारियों से मारपीट का भी एक मामला दर्ज है।

इस महिला अपराधी को गिरफ्तार करने वाले अधिकारियों का कहना है कि करीमा के खिलाफ सबसे अधिक मामले घरफोड़ी या सेंधमारी के दर्ज हैं। पुलिस अधिकारी बताते हैं कि करीमा ने ये सेंधमारी का काम उन प्यादों से करवाती है, जिन्हें उसने खुद ही इस काम के लिए प्रशिक्षित किया है।

पुलिस अधिकारी बताते हैं कि रात के अंधेरे में चोरी करवाने के लिए करीमा अपनी लक्ज़री कार का इस्तेमाल भी करती थी। घाटकोपर के कामराज नगर नेताजी नगर में करीमा की इतनी दहशत है कि कोई इसके खिलाफ कुछ बोलने से पहले कई बार सोचता है।

पुलिस के मुताबिक यह महिला तालिसेंधमारी, घरफोड़ी, लूटपाट, चोरी,

बानी तरीके से इलाके में छोटे-मोटे मामलों का निपटारा भी करती है। छेड़छाड़, छोटी-मोटी चोरियां, मारपीट जैसे मामलों में वह मांडवली का धंधा भी करती थी। पुलिस के मुताबिक 2005 से 2015 तक पंतनगर पुलिस थाने में ही 10 से अधिक मामलो में करीमा जेल जा चुकी है। इसमें हत्या का मामला भी है। तिलकनगर, धारावी, नेहरू नगर, अपराध शाखा की इकाई 5, पंतनगर थाने के अलावा कुछ और भी थानों में कई गंभीर मामले मामले दर्ज हैं।

पुलिस ने यह भी बताया कि करीमा गिरफ्तारी से बचने के लिए पुलिस को चकमा देने के लिए कई तरीके इस्तेमाल करती थी। वह पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए कई बार तो अपने कपड़े भी उतार देती थी। अधिकारियों का कहना है कि कई पुलिस वालों से वह मारपीट भी कर चुकी है।

अधिकारियों ने बताया कि करीमा को मुंबई पुलिस ने शहर से तड़ीपार कर रखा था, लेकिन जब तिलकनगर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया, तब वह मुंबई सत्र अदालत में अपने भाई को जमानत दिलाने की प्रक्रिया पूरी आई थी।

पुलिस ने जब उसे गिरफ्तार करना चाहा तो उसने काफी हंगामा मचा दिया। उसने अदालत परिसर में शोर मचा कर पुलिस वालों पर ही अपहरण का आरोप लगाना शुरू कर दिया। कई महीनों से फरार करीमा को पुलिस अधिकारियों ने धर दबोचा।

तिलक नगर पुलिस के मुताबिक 2015 में तिलक नगर इलाके में ही 3 घरों में चोरियां हुई हैं, जिसमें करीमा शाह का नाम दर्ज है। करीमा को तिलक नगर थाने ने अपनी जांच पूरी होने के बाद अन्य अपराधों की जांच के लिए अपराध शाखा की इकाई 5 को सौंप दिया है।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक करीमा के पास लगभग 25 सदस्यों वाला एक गिरोह है, जिससे वह संगीन अपराध करती और करवाती है, खुद को इस गिरोह का बॉस कहलाती है।

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market