बुजुर्ग महिला की बलात्कार के बाद हत्या, अर्थी को कंधा देने वाले आरोपी चार साल बाद पकड़े गए

ग्वालियर, 28 सितंबर 2015।

ग्वालियर में एक बुजुर्ग महिला से बलात्कार करने के बाद और उसकी हत्या करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने चार साल बाद गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपी हत्या के बाद महिला की अर्थी को कंधा देने भी पहुंचे थे।

 

पुलिस से हासिल जानकारी के मुताबिक गोपालपुरा निवासी शराबी नरेंद्र कोली राह चलते नशे में कह रहा था कि उसने चार साल पहले एक महिला की बलात्कार के बाद हत्या की थी लेकिन पुलिस आज तक उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई।

 

थाटीपुर थाने के सिपाही दिनेश कुशवाह को यह पता चलते ही उसने शराबी नरेंद्र से पूछताछ की तो उसने हत्या का खुलासा कर दिया। आरोपी नरेंद्र ने पुलिस को बताया कि उसने धर्मसिंह के साथ मिल कर यह वारदात की थी। उसने बताया कि 3 जुलाई 2011 की रात उन्होंने शराब के नशे में एक युवक को लूटने की कोशिश की थी। इसी दौरान घर के दरवाजे पर सो रही बुजुर्ग महिला रुक्मिणी ने इन्हें फटकार लगाई। इसके बाद उन्होंने रुक्मिणी से बलात्कार किया और पेट में चाकू मार कर उसकी हत्या कर दी। लाश की पहचान नहीं हो पाए इसलिए सिर काट कर गटर में फेंक दिया।

 

हत्या के बाद आरोपी मृतका की शवयात्रा में भी पहुंचे थे। यही नहीं मृतका के परिजनों के साथ बैठ कर वे रोज जानने की कोशिश करते थे कि पुलिस इस मामले में क्या कार्रवाई कर रही है।

 

गौरतलब है कि 3 जुलाई 2011 को ग्वालियर के थाटीपुर में बसंत टॉकीज के पास बुजुर्ग महिला की हत्या हुई थी। हत्या के बाद उसकी सिर कटी लाश मिली थी। महिला की पहचान रुक्मिणी जाटव के रूप हुई थी। घटना के दो दिन बाद रुक्मिणी का कटा सिर नेहरू नगर के पास गटर में बहता मिला था।

Courtesy: Attack News, Ujjain

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market