12 मार्च 1993 मुंबई बमकांड – भाग 1 – ऑपरेशन मुंबई अर्थात बमकांड 93

12 मार्च 1993 मुंबई बमकांड – भाग 1

ऑपरेशन मुंबई अर्थात बमकांड 93

12 मार्च 1993 को मुंबई के जिस्म पर 12 जख्म कुछ सिरफिरों ने दिए। वे जख्म रिसते हैं आज भी… टीसते हैं हर दिन – हर पल… और रोती है वहां हर रात मानवता… बमों के धमाकों से इन स्थानों पर सैंकड़ों शरीरों की चीथड़े उड़ गए… सैंकड़ों सदा के लिए विकलांग हो गए… हजारों के मन पर खौफ छा गया… मुंबई के हर उस हिस्से को आईएसआई एजंटों और दाऊद गिरोह के सदस्यों ने चुन-चुन कर निशाना बनाया, जहां अधिक से अधिक लोगों की मौत होती… और होता भारी आर्थिक नुकसान भी। मुंबई स्टॉक एक्सचेंज से अंधेरी के जूहू सेंटोर होटल तक बम धमाके कर पूरे देश की अर्थव्यवस्था को हिला कर रख दिया। ऑपरेशन मुंबई… यही दिया था नाम दाऊद एंड कंपनी ने अपने ही वतन के सैंकड़ों लोगों की हलाक करने के अपने खूनी और हैवानियत भरे इरादे को। 12 मार्च 1993 को हुए बमकांड को कैसे दिया अंजाम, किसने बनाई योजना और किस तरह जुड़े लोग, कहां से आया पैसा-असलाह-बारूद और कैसे तार-तार हुआ जिंदगी का ताना-बाना उस काले शुक्रवार को, अंधेरे को भेदती, हर राज फाश करती रपट। इंडिया क्राईम की 12 मार्च 1993 मुंबई बमकांड पर खास पेशकश-

अपराध जगत के सनसनीखेज समाचार जानने के लिए सब्सक्राईब करें यूट्यूब चैनल, जिसकी लिंक है :

https://www.youtube.com/user/vvdagrawal

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market