गिरोहबाज तारिक परवीन की इमारत तोड़ी दूसरे दिन भी

  • सोमवार को मनपा दस्ते ने फिर तोड़ी माफिया की अवैध इमारत
  • फिर पहुंचे मनपा के कर्मचारी तारिक परवीन की इमारत तोड़ने
  • तारिक की इमारत की कई मंजिलें ढहा गए मनपाकर्मी
  • हाथ मल कर रह गया छोटा शकील का साला शाहिद

विवेक अग्रवाल

मुंबई, 07 दिसंबर 2015

गिरोहबाज दाऊद के करीबी और मुंबई में गिरोह के आर्थिक साम्राज्य की बागडोर संभालने वाले शातिर दिमाग अपराधी तारिक परवीन और छोटा शकील के साले शाहिद की अवैध इमारत पर सोमवार को भी मुंबई महानगरपालिका के हथौड़ों का शिकार बनना पड़ा। इस इमारत की कई मंजिलों पर मनपा अधिकारियों ने हथौड़े बरसाए और उसके अगले हिस्से को पूरी तरह से नेस्तोनाबूद कर दिया।

[embedyt] http://www.youtube.com/watch?v=zVRUUsDWOXY[/embedyt]

सूत्रों के मुताबिक सोमवार की दोपहर 12 बजे से पूरे पुलिस दलबल के साथ पहुंचे मनपा अधिकारियों ने एक दिन पहले जो तोड़क कार्रवाई शुरू की थी, वह आज भी जारी रखी। यह जानकारी मिली है कि आज मनपा अधिकारियों का इरादा पूरी इमारत की जमींदोज करने का था लेकिन आसपास की इमारतों को खतरा होने के कारम हथौड़ों की मदद से धीरे-धीरे यह काम करने के चक्कर में काम पूरा न हो सका।

 

यह सूचना मिली है कि इमारत पर मंगलवार को भी एक बार फिर मनपा का हथौड़ा चलेगा। मजेदार बात यह है कि पूरी तरह अवैध इस इमारत की तल मंजिल का कुछ हिस्सा ही थोड़ा सा तोड़ कर अधिकारी रस्म अदायगी कर चले गए थे, जिससे तारिक और शाहिद ने चैन की सांस ली थी। आज जब यह फिर तोड़ी जाने लगी तो पूरे इलाके में सनसनी फैल गई।

 

बता दें कि शनिवार को मनपा दस्ता जेसीबी मशीन के साथ पुलिस बंदोबस्त में दोपहर 12 बजे से माफिया की बनाई इस अवैध इमारत के आगे बने झोंपड़े और अवैध निर्माण तोड़ गया था। इस क कार्रवाई के प्रत्यदर्शी ने बताया था कि एक बार फिर र फर तारिक – शाहिद की इमारत तोड़ने का जो नाटक हो रहा था, आज की घटना से साफ हो गया है कि उनकी अब एक नहीं चल रही है।

 

बता दें कि मुंबई में डी-कंपनी के सिपहसालार-प्यादे लगभग एक दर्जन इमारतें अवैध रूप से दक्षिण मुंबई इलाके में ही बना रहे हैं। ये इमारतें बेहद कमजोर और खतरनाक हैं क्योंकि इनका निर्माण लोहे के टी-एंगल पर किया जा रहा है। ये इमारतें कभी भी धराशाई हो सकती हैं। आग लगने पर ये इमारतें लोहे के टी-एंगल होने के कारण भरभरा कर गिर सकती हैं।

Leave a Reply

Matt Kalil Jersey 
%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market