सीटीवी अंक 01 – मुंबई माफिया का इतिहास

मुंबई माफिया का इतिहास और उसमें क्या घटित होता रहा, सब कुछ आपके सामने है।

मुंबई माफिया का आरंभ 1940 के बाद से ही माना जा सकता है, जब पठानों ने मायानगरी मुंबई में संगठित रूप से अफीम बेचना और कर्ज देना शुरू किया था।

सोने – चांदी और इलेक्ट्रॉनिक्स की तस्करी ने इसे उचाईयां दीं तो साबिर और दाऊद ने खूरेंजी से उसे नया आयाम दिया।

मौत के सौदागरों को होते देखें बेनकाब… अंडरवर्ल्ड की सच्ची और पूरी कहानी, विवेक अग्रवाल की जुबानी।

#VivekAgrawal #Dawood #ChotaRajan #MumBhai #MumBhaiReturns #Mumbai #Mafia #Underworld #Police #HajiMastan #KareemLala #VardaBhai #ArunGawli #AliBudesh #AmarNaik

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market