मनपा चुनावों में शिवसेना-भाजपा में कांटे की टक्कर बताई सट्टाबाजार ने

बड़ी मुश्किल से सट्टे के भाव तय हुए

मनपा चुनावों पर देर रात खुल ही गया सट्टा

भाजपा और शिवसेना में बताई कांटे की टक्कर

फोटो फिनिश में शिवसेना को अधिक सीटें मिलने की संभावना

विवेक अग्रवाल।

मुंबई, 10 फरवरी 2017।

मुंबई महानगपालिका चुनावों पर बुकियों ने आखिरकार सट्टा खोल दिया और वापस अपने-अपने शहरों की तरफ कारोबार शुरू करने के लिए लौट भी गए। वे मतदाताओं का मन पढ़ने में काफी परेशानी महसूस कर रहे थे लेकिन 9 फरवरी की देर रात 12 बजे तक भाव खोल कर सभी बुकी वापस लौट गए। ही हाथ लग रही है। राजनीतिक उठापटक और शिवसेना-भाजपा गठबंधन टूटने के चलते बुकियों को भाव खोलने में खासी मशक्कत करनी पड़ी है।

वोट व सीटों का गणित इस कदर गड़बड़ाया हुआ है कि बुकियों ने भाजपा व शिवसेना के बीच फोटो फिनिश में भी शिवसेना को ही बेहतर स्थिति में दिखाया है। कुल 227 सीटों वाली मनपा पर कब्जे के लिए खासा घमासान मचा है। भाजपा-शिवसेना में सीधी लड़ाई दिख रही है। कॉंग्रेस तीसरे पायदान पर रहने वाली है। मनसे, समाजवादी पाटी, बसपा, एमक्यूएम इस घमासान में हाशिए पर जा पहुंचे हैं।

मनपा चुनावों में सट्टे के भाव

शिवसेना

भाजपा

इंका

मनसे

सीट

भाव

सीट

भाव

सीट

भाव

सीट

भाव

65

32 पैसे

60

36 पैसे

20

28 पैसे

5

67 पैसे

70

82 पैसे

65

90 पैसे

25

70 पैसे

6

1.10 रु.

75

1.35 रु.

70

1.35 रु.

30

1.60 रु.

7

2 रु.

80

2.50 रु.

75

2.80 रु.

35

2.90 रु.

8

3 रु.

85

4 रु.

80

4 रु.

40

5 रु.

9

5 रु.

एक बुकी के मुताबिक पिछले मनपा चुनावों में शिवसेना के 75, कांग्रेस के 52, भाजपा के 31, मनसे के 28 नगरसेवक (पार्षद) जीते थे। अन्य दलों और निर्दलियों ने भी कुल मिला कर 28 सीटों पर हाथ साफ कर लिया था। इस बार सीटों का बंटवारा न होने से शिवसेना-भाजपा अलग हो गए।

बुकियों का कहना है कि इस बार शिवसेना को कम से कम 65 और अधिकतम 85 सीटें मिलेंगी, जबकि भाजपा को कम संख्या में 60 और अधिकतम 80 सीटें मिल सती हैं। इंका को कम से कम 20 और अधिकतम 40 सीटों के आंकड़े तक पहुंचने में मदद मिलेगी। मनसे को पांच से 9 सीटें तक मिलेंगीं।

बुकियों के मुताबिक नोटबंदी के बावजूद सट्टा अच्छा चलने लगा है। बाजार में नकदी के हालात ठीक होते जा रहे हैं। 23 फरवरी को चुनावों के परिणाम आने के बाद जो पहला सोमवार होगा, उस दिन वलण (हार-जीत की रकम का लेन-देन) होगा। बड़ी रकमें तो आंगड़िया (कुरीयर) के जरिए ही भुगतान का पुराना आजमाया हुआ विश्वसनीय तरीका इस्तेमाल होगा लेकिन दो लाख रुपए से छोटी रकम बैंक में ऑनलाईन भी ली-दी जाएंगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market