चैंपीयंस ट्रॉफी में सट्टे की पिच पर जीत के लिए इंग्लैड पहले, भारत चौथे पायदान पर

विवेक अग्रवाल।

मुंबई, 29 मई 2017।

आईसीसी चैंपीयंस क्रिकेट ट्रॉफी पर एक तरफ जहां खिलाड़ियों और उनके प्रशंसकों में भारी उत्साह छाया हुआ है, वहीं सटोरियों में भी इसे लेकर खासा जोश है। सटोरियों ने आईपीएल में मोटी कमाई के बाद आईसीसी चैंपीयंस क्रिकेट ट्रॉफी के लिए अपनी तरफ से पूरी तैयारियां कर ली हैं। उन्हें यह लग रहा है कि भारत के फाईनल्स में पहुंचने की संभावना क्षीण लग रही है। बुकियों का मानना है कि इस बार ट्रॉफी इंग्लैंड या ऑस्ट्रेलिया में से एक टीम जीत सकती है।

 

कप के भाव

सटोरियों के बीच कप की जीत के लिए जो भाव खुले हैं, वे इंग्लैड के पक्ष में अधिक दिख रहे हैं। यह टीम बुकियों और सटोरियों की हॉट फेवरेट बन चली है। उसका भाव जहां 2.70 रुपए चल रहा है, वहीं ऑस्ट्रेलिया का 3.30 रुपए है। दक्षिण अफ्रिका की टीम पर 4.40 रुपए, भारत के 4.70 रु., न्यूजीलैंड के 13 रु., पाकिस्तान के 21 रु., श्रीलंका के 40 रु. और बांग्लादेश की जीत के लिए 60 रुपए का भाव खुला है।

 

फाईनल में पहुंचने के भाव

इस बार सट्टा बाजार में नया भाव देखने में आ रहा है। इस बार सट्टा बाजार ने फाईनल्स में जाने वाली टीमों पर भी भाव खोले हैं। इंग्लैंड का भाव 1 रुपए है, ऑस्ट्रेलिया का 1.50 रुपए चल रहा है। दक्षिण अफ्रिका पर 1.80 रुपए, भारत के 2.25 रु., न्यूजीलैंड के 3.25 रु., पाकिस्तान के 7 रु., श्रीलंका के 22 रु. और बांग्लादेश के फाईनल में पहुंचने के लिए 40 रुपए का भाव खुला है।

 

भारत-पाक मुकाबला

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट का मुकाबला हमेशा दोनों देशों के बीच मूंछ की लड़ाई अधिक बन जाता है। सटोरियों के लिए भी यह उत्सव का मौका होता है। भारत-पाक मैच में पाकिस्तान के जीतने पर बुकियों ने जहां 52 पैसे का भाव खोला है, वहीं पाकिस्तान की जीत के लिए 1.90 रुपए का भाव खोला है।

 

छोटा मैदान – अधिक रन

आईसीसी चैंपीयंस क्रिकेट ट्रॉफी में कुल आठ टीम खेल रही हैं और उनके बीच फाईनल्स तक कुल 15 मैच होने हैं। ये मैच एक जून 2017 से शुरू होने जा रहे हैं।

 

बुकियों का मानना है कि मैच इंग्लैंड के जिस मैदान में हो रहे हैं, वह काफी छोटा है। वहां रन अधिक बनते हैं। हर टीम कम से कम 300 रन तो जरूर बनाएंगीं। इससे भी सट्टा अधिक खेला जाता है।

 

बेटिंग और लाईन एप्स

पहले क्रिकेट सटोरियों को भाव लगाने के लिए फोन पर बुकियों से संपर्क स्थापित करना होता था। अब बुकियों ने इस काम के लिए दर्जनों पोर्टल (वेबसाईट) और एप्स बना दिए हैं। ये बुकी अब न केवल एप्स के जरिए सट्टा लगवा रहे हैं बल्कि खेल अब रुपए के बदले डॉलर में किया जा रहा है।

यही नहीं, लाईन के लिए भी अब फोन का जमाना भी लगभग बीत चुका है। पहले लाईन देने वाले अलग से भाव के लिए एक फोन देते थे, जिसके ले हर मैच का 800 से 1,000 रुपए तक वसूला जाता था। अब मुफ्त के एप्स आ चुके हैं। इन पर गेंद दर गेंद और रन दर रन भाव दिखते रहते हैं। यदि सटोरिए चाहें तो इन पर सीधे सट्टा लगा भी सकते हैं।

 

कई एप्स गुगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं, जिनमें से cricketmazza, cricketliveline, cricketfastline इन दिनों किशरों और युवाओं में काफी चलन में हैं। इन एप्स पर सेशन से स्कोर तक सब कुछ रियल टाईम दिखता है। ऐसे दर्जनों एप्स प्ले स्टोर पर उपलब्ध होने के कारण छोटे-छोटे गांवों तक क्रिकेट का सट्टा अब किशोरों और युवाओं के बीच जा पहुंचा है। बच्चे भी आराम से इन एप्स पर रुपए जमा करके सट्टेबाजी कर सकते हैं।

40 हजार करोड़ के दांव

बुकियों का कहना है कि प्रति मैच लगभग 2,000 करोड़ रुपे के दांव लगेंगे। सेमी फाईनल के हर मैच पर लगभग 3 हजार करोड़ रुपए तक के दांव लगेगें। फाईनल में यदि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया आते हैं तो अधिकतम 6,000 करोड़ रुपए के दांव लगेगें। यदि भारत किसी तरह से फाईनल में आ पहुंचा तो यह रकम बढ़ कर 10 हजार करोड़ रुपए तक जा सकता है।

 

सटोरियों का मानना है कि कुल 40 हजार करोड़ रुपए तक का खेल इस बार होने की संभावना है। बुकियों का कहना है कि फाईनल में इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रिका या दक्षिण अफ्रिका में से कोई दो टीम आएंगी।

 

हल्का खाओ – बुक बनाओ

सटोरियों ने देखा है कि पिछले कुछ समय में बड़े पैमाने पर युवाओं को सट्टे में मोटा नुकसान उठाना पड़ रहा है क्योंकि वे न तो खेल समझ पाते हैं, न सट्टे का खेल समझते हैं। एक बुकि कहता है कि अब नुकसान उठाने के बदले उन्हें अपना तरीका बदलना चाहिए। उन्हें हल्की चीज खानी चाहिए। जहां बुक बनती है, वहां बुक बना लेनी चाहिए, तो ही वे मैच जीत सकते हैं।

 

पिछले कुछ मैच में जिस तरह से उलटफेर हुआ है, उसे बुकि मैच फिक्सिंग का ही नतीजा मान कर चल रहे हैं। उनका कहना है कि जिस पैमाने पर उलटफेर होता है, वह बिना फिक्सिंग के संभव नहीं है। एक बुकि के मुताबिक आईपीएल के फाईनल में जिस तरह से मैच का रुख बदला था, वह साफ जाहिर करता है कि इसमें फिक्सिंग हुई होगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market