खेल खल्लास: मोहम्मद शफी शेख उर्फ उर्फ पुराना मंदिर : बहन की शादी ने बनाया गिरोहबाज

अंडरवर्ल्ड के फिल्मों से पुराने संबंध हैं। फिल्मी ग्लैमर अपराधियों को हमेशा खींचता है। फिल्मी लोग भी रुपहली दुनिया छोड़ काले संसार में शामिल हुए हैं। फिल्मों में काम कर रहे मोहम्मद इकबाल शेख के साथ भी ऐसा ही हुआ। वे क्या हालात थे, जिनके कारण मोहम्मद अंडरवर्ल्ड में आया?

मुंबईया मसाला फिल्म के एक निर्देशक की निगाह मोहम्मद इकबाल शेख पर पड़ी। उसने राक्षसी काया के स्वामी मोहम्मद का इस्तेमाल भुतहा फिल्म ‘पुराना मंदिर में किया। इससे मोहम्मद की अपराध जगत में साख बन गई। इसी से ‘पुराना मंदिर’ नाम उसे मिला।

 

मुंबई पुलिस के एक अधिकारी बताते हैं कि मोहम्मद इकबाल ने निर्माता-अभिनेता आमिर खान की फिल्म ‘मेला’ में भी छोटी भूमिका की थी।

 

चेहरा छुपाने वाले गिरोहबाजों से मोहम्मद अलग था। वह अंडरवर्ल्ड के गोपनीयता बरतने और चेहरा छुपाने के नियम का खुलेआम उल्लंघन करता रहा, मजे से फिल्मों में काम करता रहा।

 

मोहम्मद इकबाल गोवंडी झोपड़पट्टी में रहता था। उसे क्रिकेट खेलने में बड़ा मजा आता था, कसरत का भी शौकीन था। हर वक्त वर्जिश से मोहम्मद का शरीर बढ़िया बना रहता था।

 

फिल्मों में खलनायक हमेशा नायक से पिटते हैं। मो. इकबाल परदे का अफसाना और असली जिंदगी की दास्तां में फर्क नहीं कर पाया। मोहम्मद के पापों का घड़ा भर गया, तो एक दिन छलक भी गया।

 

इकबाल मोहम्मद शफी शेख उर्फ इकबाल मोहम्मद गनी शेख उर्फ पुराना मंदिर पुलिस मुठभेड़ में मारा गया तो पता चला कि अंडरवर्ल्ड में आने की कहानी बड़ी फिल्मी थी। मोहम्मद को बहन की शादी के कर्ज ने अपराध जगत में घसीटा था। पूरी कहानी के लिए पढ़ें – खेल खल्लास

Leave a Reply

Matt Kalil Jersey 
%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market