खेल खल्लास: रज्जाक कश्मीरी : सिपहसालार को चुनौती देने वाला फौजदार

कोई सोचे कि वो अजेय है, जिसे चुनौती दे रहा है, कभी न कभी उसे मार गिराएगा, तो खामखयाली भी हो सकती है। रज्जाक कश्मीरी बड़ा चालाक व चुस्त गिरोहाबाज था, इसके बावजूद उसका भी हुआ खेल खल्लास।

 

अपनी हरकतों से न केवल छोटा शकील, पुलिस की भी आंख में पड़े बाल की तरह रज्जाक कश्मीरी कसकता था। उसने शकील से बगावत कर दी क्योंकि उसके लंगोटिया यार की हत्या डी-कंपनी ने की थी। बदले में कश्मीरी ने खासा कहर ढाया था। कौन था कश्मीरी और क्या था उसका बदला… उसकी अजब दास्तान खोदने में खासी मशक्कत हुई।

रज्जाक कश्मीरी ने 2 साल के वक्फे में राजन के चिरशत्रु छोटा शकील के सात प्यादों-हत्यारों को लुढ़काया। उनके लिए यह अचरज का विषय नहीं जो भूमिगत संसार को देखते-जानते हैं।

 

अंडरवर्ल्ड में आने के पहले ही रज्जाक कश्मीरी डोंगरी में कोल्ड्रिंक बेचता था। यहीं शकील के सुपारी हत्यारे फिरोज कोंकणी से मिला। कश्मीरी ने कोंकणी के जलवे देखे तो ‘भाई’ बन कर ‘कमाई’ करने के लिए फिरोज के साथ हो गया।

 

कश्मीरी ने शकील से अकेले लड़ने की बजाए साथ खोजा। शकील के दुश्मनों को दोस्त बनाने के लिए भूमिगत संसार के प्रेतों की सूची खंगाली तो हुसैन उस्त्रा का नाम मिला। कश्मीरी ने उस्त्रा से दोस्ती गांठ ली।

 

शकील को खल्लास करने का ख्वाब देखते–देखते इस खल्लास भाई रज्जाक कश्मीरी का ही हो गया खेल खल्लास।

 

पूरी कहानी के लिए पढ़ें – खेल खल्लास

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market