मेन बाजार मटके पर अब ठाणे पुलिस का छापा, 28 गिरफ्तार

विवेक अग्रवाल

मुंबई, 14 अगस्त 2018।

  • गोवा छापे के बाद कई दिन बंद रहा मेन बाजार मटका
  • मेन बाजार फिर खुला ठाणे के घोड़बंदर रोड पर
  • एक गेस्ट हाऊस में छापामारी की पुलिस ने
  • काशीमीरा पुलिस को पता ही नहीं चला छापे का
  • वरिष्ठ अधिकारी ने गोपनीयता से मारा छापा

देश के सबसे बड़े और कुख्यात मटका जुआ मेन बाजार के ठाणे मुख्यालय पर पुलिस ने बड़ी गोपनीयता के साथ 13 अगस्त की रात साढ़े 11 बजे छापा मारा। रात छापामारी के कारण इस रात भी मटका आंकड़ा नहीं खुल पाया। आज भी सुबह के आंकड़े नहीं खुले। इस छापे में ठाणे पुलिस के एसएसपी का विशेष दस्ता ही जुटा हुआ था। यहां तक कि काशीमीरा पुलिस थाने को इस छापामारी की भनक सुबह तक नहीं पड़ी थी।

ठाणे पुलिस ने मेन बाजार मटका गिरोह के सरगना पप्पू सावला के 28 सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।

 

मेन बाजार मटका अड्डे पर छापा

ठाणे पुलिस ने मेन बाजार मटका गिरोह के सरगना पप्पू सावला के 28 सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। इस छापे के बाद प्रकाश उर्फ पप्पू सावला भूमिगत हो गया है। तमाम मटका गिरोहबाजों में भी दहशत तारी हो गई है। पिछले कुछ दिनों से गोवा छापामारी के चलते मेन बाजार मटका के आंकड़े नहीं खुल रहे थे।

पिछली देर रात लगभग डेढ़ बजे इस मामले की सूचना देते हुए अहमदाबाद के अपराध संवाददाता महेश दवे ने बताया कि गोवा के बाद पप्पू सावला के मटका गिरोह पर पुलिस की छापामारी सफल रही है। पुलिस दस्ते ने गिरोह के कुल 28 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनसे पुलिस को मोबाईल फोन, लैपटॉप, नकदी के अलावा और भी काफी सारा सामान मिला है।

इस छापामारी के दौरान पप्पू सावला का मैनेजर और खासमखास सिपहसालार पीयूष भी पुलिस की गिरफ्त में आया है। महेश दवे के मुताबिक पीयूष से यदि ठीक तरह से पूछताछ हुई तो ये तय है कि पप्पू सावला और उसके गिरोह के बारे में काफी जानकारी मिल सकेगी।

एक तरफ यह कहा जा रहा है कि गोवा में छापामारी के बाद पप्पू सावला ने अपना कारोबार एक बार फिर ठाणे जिले के घोड़बंदर रोड पर कुछ दूर कच्ची सड़क पर बने एक गेस्ट हाऊस में अड्डा बनाया था। यहीं से कारोबार फिर से शुरू किया था। यह गेस्ट हाऊस चाईना ब्रिज के करीब बना हुआ है। दूसरी तरफ एक सूत्र का कहना है कि यह अड्डा खुद पप्पू सावला का नहीं है। वह किसी बड़े बुकी का अड्डा हो सकता है। इस सूत्र का कहना है कि गोवा में छापामारी के बाद बस उसी रात और अगले दिन ही मटके के आंकड़े नहीं खुले थे।

इस मामले की अधिक जानकारी देने से पुलिस भी बच रही है। पप्पू सावला की तलाश जारी है।

 

गोवा में शुरू हुआ मटका

एक सूत्र का कहना है कि पप्पू सावला के मेन बाजार मटका गिरोह के जिन 29 सदस्यों को गोवा पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उन सभी को सोमवार की सुबह अदालत से जमानत भी मिल गई है। वे तो वापस मुंबई लौट गए हैं लेकिन नए सदस्यो के साथ मिल कर मटके के आंकड़े खोलना जारी है।

 

जयेश शाह खोलता है आंकड़े

इस सूत्र के मुताबिक पप्पू सावला खुद मटके के आंकड़े नहीं खोल रहा है। यह काम उसके लिए जयेश सावला करता है। जयेश सावला असल में पप्पू सावला का भाई है। वह भी इन दिनों गोवा में ही है।

पता चला है कि जिस दिन छापामारी हुई थी, जयेश सावला ने ही ओपन के आंकड़े खोले थे। अमूमन जयेश शाह बोरीवली के अपने गोपनीय अड्डे से आंकड़े खोलता है।

 

मेन बाजार मटका आज

मेन बाजार मटका का संचालन जबसे प्रकाश सावला उर्फ पप्पू सावला के हाथों में आया है, तबसे रात साढ़े 9 बजे ओपन और रात 12.05 बजे खुलता है। शनिवार और रविवार को मेन बाजार मटका बंद रहता है।

खुला मेन बाजार आंकड़ा

सोमवार को मेन बाजार के आंकड़े खुले थे। पुलिस का यह दावा गलत साबित हुआ है कि गोवा में छापामारी से मेन बाजार मटका पूरी तरह से बंद रहा है।

सोमवार को ओपन के आंकड़े 247 से 3 और क्लोज का आंकड़े 245 से 2 खुले थे।

 

मटका में खटका

मटका कारोबार की अंदरूनी जानकारी रखने वाले एक मुखबिर का कहना है कि मेन बाजार मटका में अब पूरी तरह सच्चा कारोबार नहीं होता है। अब चूंकी कंप्यूटर आ गया है इसलिए हर पंटर की रकम और आंकड़े की जानकारी कुछ लोग एक जगह पर बैठ कर कंप्यूटर में डालते जाते हैं। उनके पास इसके लिए एक कास सॉफ्टवेयर है। इससे तुरंत पता चल जाता है कि किस आंकड़े पर सबसे कम रकम के दांव लगे हैं। वही आंकड़े जयेश शाह द्वारा खोले जाते हैं।

इस मुखबिर ने बताया कि सुबह ठीक 9.25 पर जयेश शाह की तरफ से अपने कर्मचारियों को निर्देश मिलता है, “लास्ट करो।” इसका मतलब होता है कि अब उन्हें फोन उठाने और आंकड़े लिखने बंद कर देने हैं। यही काम क्लोज में रात को भी होता है। यह स्थिति 12 बजे रात को होती है। इसके बाद जयेश शाह सारे आंकड़ों में से वे आंकड़े खोजता है, जिसके खोलने से सबसे कम रकम खेलियों और पंटरों के खाते में जाएगी। इस तरह पंटरों को काफी समय से मेन बाजार मटका में धोखाधड़ी की जा रही है।

 

मटका इंदौर या यवतमाल से?

एक सूत्र का कहना है कि पप्पू सावला ने मटका के आंकड़े खोलने के लिए एक नई रणनीति अपनानी शुरू की है। मेन बाजार के सोमवार वाले आंकड़े मुरली मऊ नामक एक बुकी द्वारा खोले जाने की जानकारी मिल रही है। यही नहीं आज रात का मटका आंकड़ा मनोज यवतमाल नामक एक बुकी को खोलने की जिम्मेदारी दी है। यह बात और है कि इसके बारे में पुख्ता जानकारी हासिल नहीं हो पा रही है।

एक और सूचना मिल रही है कि पप्पू सावला का बेटा विरल सावला भी मेन बाजार मटका कारोबार की कमान संभाल रहा है। वह भी इस कारोबार में अपने चाचा जयेश सावला का साथ दे रहा है।

 

Leave a Reply

Matt Kalil Jersey 
%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market