कॉलर आईडी स्पूफ़िंग – सावधानी ही उपाय है

यदि आप मोबाइल पर कॉल रिसीव करने जा रहे हैं, तो जरूरी नहीं कि मोबाइल कॉलर की जो आईडी (मोबाइल नंबर, नाम, इत्यादि) आपके फ़ोन पर दिख रही है, वह सही हो।

सेल फोन नंबर की आईडी आसानी से बदली जा सकती है। इसे ही कॉलर आईडी स्पूफ़िंग कहते हैं।

कॉल करने वाला तकनीकी का उपयोग कर मनचाही आईडी आपके फ़ोन पर प्रदर्शित कर सकता है। यह आपके खुद के या आपके किसी करीबी का नंबर हो सकता है।

अतः आपके मोबाइल पर प्रदर्शित होने वाली आईडी पर भरोसा न करें।

संदेह की स्थिति में पुलिस को फ़ोन करें।

सावधान रहें, सुरक्षित रहें।

बालोद पुलिस, थाना गुंडरदेही द्वारा जारी

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market