स्पैम से जरा बचके – जरा हटके

इंटरनेट पर लोगों को बार-बार संदेश या विज्ञापन भेजना, जिनका उन्होंने अनुरोध नही किया है, याने कि अनवांछित संदेश या विज्ञापन लोगों को भेजना स्पैम कहलाता है।

आप इंटरनेट इस्तेमाल करते है, तो आपको भी स्पैम संदेशों, प्रोमोशनल ईमेल से जूझना पड़ता होगा। इससे बहुत सावधान रहने की जरूरत है।

सायबर दुनिया ऐसी दुनिया हो गई है, जहां सावधानी हटी तो दुर्घटना घटने की प्रबल संभावना है।

यूज़र्स को ऐसे स्पैम मेसेज से फाइनेंशल व प्राइवेसी रिस्क है क्योंकि ठग इन स्पैम मेसेज के जरिये पर्सनल डेटा चोरी करते हैं। क्रेडिट कार्ड धोखाधड़ी जैसे अन्य अपराधों के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। यह एक तरह की फिशिंग है।

क्या करें – क्या नहीं…

  • कभी किसी स्पैम मेसेज का जवाब नहीं देना चाहिए। आप जितना अधिक स्पैम मेसेज का जवाब देंगे, उतना मैसेज आपको आने की संभावना बढ़ जाती है।
  • वित्तीय संस्थानों जैसे बैंक से आए मेसेज या वेरिफाईंग मेसेज को क्लिक नही करना चाहिए। ऐसे लिंक पर आप क्लिक कर कोई फाएनेंशियल जानकारी (केडिट या डेबिट कार्ड की जानकारी) देंगे तो आप मुसीबत में आ सकते हैं।
  • जो लिंक आये, उसे खोलना ही नही है। लिंक खोल लें तो देखें जरूर की लिंक सिक्योर है कि नहीं याने यह HTTPS से शुरू होती है या नहीं।
  • पासवर्ड मजबूत रखें। इसे समय-समय पर बदलते रहें। बच्चों या खुद के नाम पर या जन्मदिन इत्यादि को पासवर्ड न बनायें। पासवर्ड याद रखने के लिए ‘रीमेंबर मी’ को क्लिक न करें।
  • मोबाइल से सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं, तो इस्तेमाल करने के बाद लॉगआउट करना न भूलें।
  • एंटीवायरस अपडेट रखें।

सावधान रहें सुरक्षित रहे

गुंडरदेही पुलिस द्वारा जनहित में जारी

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market