ज़ूम ऐप सुरक्षित नही, अपनी रिस्क पर इस्तेमाल करें, गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

समीर शर्मा

इंदौर, 17 अप्रैल 2020

कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान भारत समेत दुनिया के कई देशों में पॉपुलर हो रही है वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जूम (Zoom App) को लेकर गृह मंत्रालय ने कहा है कि यह सुरक्षित नहीं है।

गृह मंत्रालय ने इसे लेकर एडवाइजरी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि लोग इसका सावधानी से इस्तेमाल करें।

सरकार की ओर से यह एडवाइजरी राष्ट्रीय सायबर सुरक्षा एजेंसी – कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पोंस टीम ऑफ इंडिया (CERT-in) की ओर से जारी की गई है।

एजेंसी ने कुछ दिनों पहले लोगों को इस एप की कमजोरियों के प्रति आगाह किया था। 

Zoom ऐप यूज करने के दौरान क्या सतर्कता बरतें

  1. हर मीटिंग के लिए नई यूजर आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल करें।
  2. ज्वाइन ऑप्शन को डिसऐबल कर दें।
  3. वेटिंग रूम को एनेबल करें, ताकि कोई अन्य यूजर तभी कॉल में शामिल हो सके जब कॉन्फ्रेंस करने वाला अनुमति दे।
  4. स्क्रीन शेयरिंग का ऑप्शन सिर्फ होस्ट के पास हो।
  5. फाइल ट्रांसफर के ऑप्शन का कम इस्तेमाल करें
  6. किसी व्यक्ति के लिए रिज्वाइन का ऑप्शन बंद रखें।

क्यों है यह असुरक्षित?

ज़ूम के बारे में सूचना मिली है कि वह लाखों लोगों का डेटा डार्क वेब में बेच रहा है।

गौरतलब है कि कोरोना लॉकडाउन की वजह से दुनिया भर में तेजी से Zoom यूजर्स बढ़े और अब प्राइवेसी को लेकर बड़ी समस्या आने लगी है।

ब्लीडिंग कंप्यूटर की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक 5 लाख से ज्यादा Zoom अकाउंट को डार्क वेब में बेचा जा रहा है।

कई जगहों पर Zoom यूजर्स का डेटा तो फ्री में ही दिया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक Zoom यूजर्स को इस बात का अंदाजा भी नहीं होता है कि उनका डेटा बेचा जा रहा है।

इनमें यूजरनेम, पासवर्ड और यूजर द्वारा दर्ज की कई जानकारियां शामिल हैं।

साइबर सिक्योरिटी फर्म Cyble ने दावा किया है कि इस कंपनी ने 5 लाख से ज्यादा Zoom के यूजर क्रेडेंशियल यानी लॉगइन डिटेल्स खरीदी हैं।

इस फर्म ने कहा है कि ये यूजर्स को आगाह करने के लिए किया गया है।

इस फर्म ने कहा है कि ये डेटा 10 पैसे प्रति अकाउंट से कम में खरीदा गया है।

माइक्रोसॉफ्ट की स्काईप, फेसबुक लाइव और गूगल टूल्स इस मामले में ज्यादा सेफ हैं। 

किसी व्यवसायिक मजबूरी के चलते, यदि आप इसे हटा नही सकते तो सेटिंग्स में जाकर यूज़ के बाद इसे डिसएबल करके रखें।

समीर शर्मा

सायबर सलाहकार, परामर्शदाता व पत्रकार

माइक्रोसॉफ्ट, ओरेकल और सिस्को से सर्टिफाइड टेक्नोक्रेट 

संपर्क – unitetheworld@gmail.com

#Sameer_Sharma #India_Crime #Tabligi_Jamat #Muslim #Hindu #Islam #Whatsapp #Media #Indore #Fight #MP #CoronaVirus #CoVid-19 #Zoom #Hacker #Hacked #App

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market