किताब : दत्तात्रय लॉज: बॉलीवुड के बरबाद सपनों की बारात

दत्तात्रय लॉज: बॉलीवुड के बरबाद सपनों की बारातलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 184 / अध्याय – 20 ‘दत्तात्रय लॉज’ बॉलीवुड

Read more

किताब : मुठभेड़ : घनसू डकैत से 59 घंटों की मुठभेड़ पर आधारित रोमांचक शोधपरक उपन्यास

मुठभेड़ : घनसू डकैत से 59 घंटों की मुठभेड़ पर आधारित रोमांचक शोधपरक उपन्यासलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 192 /

Read more

किताब : अदृश्य

किताब : अदृश्यलेखक – विवेक अग्रवाल – अलका अग्रवाल सिगतियापृष्ठ – 200 / अध्याय – 18 एक फिल्म का साहित्यिक

Read more

किताब : आंसू: वासना का नरक भोगता बचपन

किताब : आंसू: वासना का नरक भोगता बचपनलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 195 / अध्याय – 24 बाल यौन उत्पीड़न

Read more

किताब : बार-बंदी : बर्बाद बारों की बेनूर बारात

किताब : बार-बंदी : बर्बाद बारों की बेनूर बारातलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 274 / अध्याय – 17 हम पहुंच

Read more

किताब : अंडरवर्ल्ड बुलेट्स : मुंबई माफिया के अनसुने किस्से

अंडरवर्ल्ड बुलेट्स : मुंबई माफिया के अनसुने किस्सेलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 330 / अध्याय – 113 यह किताब मनोरंजन

Read more

किताब : अंडरवर्ल्ड दाने : मुंबई माफिया के अनसुने किस्से

अंडरवर्ल्ड दाने : मुंबई माफिया के अनसुने किस्सेलेखक – विवेक अग्रवालपृष्ठ – 176 / अध्याय – 100 मुंबई माफिया के

Read more

किताब: नरक सरहद पार: पाक की वहशी जेलों से जिंदा लौटे जासूस की सच्ची दास्तां

नरक सरहद पार: पाक की वहशी जेलों से जिंदा लौटे जासूस की सच्ची दास्तांपृष्ठ – 444 / अध्याय – 12

Read more

किताब: अछूत कुत्ता: कुरीतियों के खिलाफ कलम

अछूत कुत्ता: कुरीतियों के खिलाफ कलमपृष्ठ – 165 / अध्याय – 33 भारत ही नहीं, पूरा विश्व अजब-गजब किस्म की

Read more

ये जो आसमान पे नफ़रत के बादल छाये हैं

ये सब नकली हैं, किसी खुदग़र्ज़ की खुदग़र्ज़ी ने इन्हें बनाये हैं, इसे अमृत वर्षा समझ कर आप जो इसमें

Read more

राक्षस: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

वीरान हवेली की दो महीने में शूटिंग पूरी हो गई। अगले छह महीनों में एडिटिंग भी पूरी हो गई। फिल्म

Read more

डंक: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

हाईवे पर पहुंचने के बाद संजय ने मुस्कुरा कर आगे बैठे टोनी पर नजर डाली, “क्या हाल है रौनक भाई…

Read more

रात का राजा: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

रज्जू भैया से आज फिर राजा भाई की बातें चल रही है। मुद्दा है वही कि कौन चुनाव जीतेगा –

Read more

लॉज की यारी…: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

देव कुमार अब डायरेक्टर हो गया। रहा वही मीठा और चीठा। सारे जहान को सेट पर बुला-बुला कर दिखाने लगा

Read more

गांधारी का अर्धसत्य: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

“मंझा सूंतने से क्या मतलब…” “मंझा किस काम का… निठल्लों का काम है पतंग उड़ाना… जब-तब मंझा उनके ही हाथ

Read more

लाश: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

“हो रे बाबा, ये पटकन।” बाबू भाई ने शांत भाव से दांत कुरेदते हुए फोन रखा। कुर्सी से उठ कर

Read more

लॉकडाऊन रहेगा याद!

लॉकडाऊन की बातें याद बनकर रह जाएंगीएक समय के बाद ये कहानियां बन जाएंगी कभी भी खाना और कभी भी

Read more

500 की खाट: उपन्यास अंश… दत्तात्रय लॉज: लेखक – विवेक अग्रवाल

“कोई काम हो तो दीजिए…” बाबू भाई ने मरी आवाज में कहा। “क्या कर सकते हैं…” गुप्ताजी सीधे मुद्दे पर

Read more

दीवारों से मिल कर रोना अच्छा लगता है, हम भी पागल हो जाएंगे ऐसा लगता है – क़ैसर उल जाफ़री

रस्ते भर रो–रोकर पूछा हमसे पांव के छालों ने बस्ती कितनी दूर बसा ली दिल में बसने वालों ने यह

Read more
Web Design BangladeshBangladesh Online Market