सीटीवी अंक 9 – अस्पताल और अदालतें हैं सुरक्षित ठिकाने माफिया के

अस्पताल और अदालतों के खचाखच भरे प्रांगणों से शौचालयों तक, ऐसी कोई जगह नहीं, जो मुंबई माफिया के काम की न हो। वे बीमार होने के बहाने जा पहुंचते हैं अस्पताल।

वहां से करते हैं वे सारे काम जो कभी करते रहे हैं अपने सुरक्षित अड्डों से।

इसी तरह तारीखों पर जब पहुंचते हैं अदालत तो पुलिस निगरानी में भी वह सब कर गुजरते हैं, जो कानूनी तो नहीं ही होता है।

मुंबई माफिया की इन्हीं हरकतों और खेल के हर राज को कर रहे हैं फाश विवेक अग्रवाल।

#VivekAgrawal #Dawood #ChotaRajan #MumBhai #MumBhaiReturns #Mumbai #Mafia #Underworld #Police #HajiMastan #KareemLala #VardaBhai #ArunGawli #AliBudesh #AmarNaik

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market