Drugs Codewords: ऐश्वर्या राय है महंगा नशा, राखी सावंत सस्ता नशा

विवेक अग्रवाल, मुंबई

17 अगस्त 2010

नशा फरोशों की दुनिया में फ़िल्मी हस्तियों के नामों पर नशीले पदार्थों के नाम रखे जा रहे हैं ताकि सुरक्षा एजेन्सियों को धोका दिया जा सके। मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल ने पिछले दिनों 20 से अधिक ड्रग्स बेचने वालों को गिरफ्तार किया, तो उनसे पूछताछ में यह बात पता चली।

जब किसी को नशा लाने के लिए आर्डर देना होता है तो उनको ये कहना होता है कि ‘ऐश भी पार्टी में आने वाली है।‘ और अगर किसी की मांग किसी और ड्रग्स की है, तो वो कहता है कि ‘आज की पार्टी में तो राखी सावंत आग लगाने वाली है।‘ बेचने वाला पूछता है कि ‘कितने में आ रही है राखी?’ तो खरीदने वाला कहता है, ‘5 में’, याने खरीदार को 5 ग्राम मात्रा चाहिए। पार्टी की जगह बता कर माल सीधे घर पर ही पहुंचा दिया जाता है।

एएनसी अफसरों के मुताबिक जो नशा जितना महंगा होता है, उसे उतनी ही प्रसिद्ध और महंगी एक्ट्रेस का नाम दिया जाता है।

एक्सटेसी – 5,000 रुपए प्रति ग्राम मिलती है – ऐश्वर्या राय या कटरीना कैफ के नाम से बिक रही थी। ये नशा मुंबई की रेव और फ़िल्मी पार्टियों में काफी अधिक चलता है।

चरस – करीना कपूर – 4,500 रु। प्रति ग्राम मिलती है।

हशीश – बिपाशा बासु – 1,500 रु। प्रति ग्राम मिलती है।

गांजा – राखी सावंत – 100 रु। की 1 पुडिया मिलती है।

काफी समय से एएनसी के अफसर ये खोजने में लगे थे की आखिर नशा बेचने वाले किन कोड वर्ड्स का इस्तेमाल करते है, जिससे किसी को भी उनके काले कारोबार की जानकारी न मिल सके। जब लगभग 2 दर्जन से अधिक नशा विक्रेता गिरफ्तार हुए और उनसे लंबी पूछताछ की गई तो ये सब पता चला।

डीसीपी सुनील पावसकर के मुताबिक नशा तस्कर और विक्रेता हमेशा नाम बदलते रहते हैं ताकि पुलिस को धोका दे सकें। इस मामले में और जांच चल रही है, हम कोशिश कर रहें हैं की नशा तस्करों का जाल तोड़ सकें।

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market