किताब: अंडरवर्ल्ड दाने: मुंबई माफिया के चटपटे चुटीले किस्से

एक किताब जो मुंबई माफिया के कई अनसुने – अनदेखे पहलुओं पर रोशनी डाल रही है। पूरी दुनिया में मुंबई माफिया की पहचान बन चुकी है। इसके सरगना और सिपहसालार नकली करंसी, नशा, हथियार तस्करी से आतंक तक, सब कुछ बेच रहे हैं। दुनिया भर के तमाम देशों में मुंबई माफिया के पांव पसरे हुए हैं। उनकी जड़ों को विश्व माफिया से खाद और पानी मिलता है।

लल्लू जोगी, बखिया बंधुओं, हाजी मस्तान, करीम लाला, दाऊद इब्राहिम, अरुण गवली, मन्या सुर्वे, सुभाष ठाकुर, पापामणि, बल्लू बादशाह, जिनाबाई खबरी, रहीम लंबू, माया डोलस, जैसे हजारों किरदार अंधियाले संसार में हैं, जिनकी जिंदगी के अनसुने तथ्य और कथ्य इस किताब में समाहित हैं।

अंडरवर्ल्ड दाने में मुंबई के खूनी संसार और इसके खूंखार सरमायादारों के ऐसे रहस्यमई किस्सें हैं, जिन्हें पढ़ कर आप दांतों तले अंगुली दबा लेंगे।

अंडरवर्ल्ड दाने में दहशतगर्द दुनिया के ऐसे किस्से भी हैं, जो आपके चेहरों पर एक अदद मुस्कुराहट भी लाने में सफल होंगे।

अंडरवर्ल्ड दाने में इस खतरनाक खूनी खेल और खिलाड़ियों की ऐसी कहानियां हैं, जो पढ़ कर आप सोच में पड़ जाएंगे कि इसे सच मानें या झूठ।

हैरतअंगेज किस्सों से सजी पुस्तक अंडरवर्ल्ड दाने की लेखन शैली भले ही मनोरंजक मसालेदार सहज एवं जनप्रिय साहित्य की श्रेणी में आती है लेकिन मुंबई के गिरोहों और गिरोहबाजों का जीवंत तथा प्रामाणिक दस्तावेज है।

इन छोटी-छोटी कथाओं की बुनावट किस्सों जैसी है। इन्हें पढ़ते समय आपको अपराध जगत का इतिहास रोचक शैली में मिलेगा। लोगों के स्मृतिकोष कुरेद-कुरेद कर कुछ किस्से निकाले हैं, कुछ दस्तावेजों से पाए हैं, कुछ पत्रकारिता के दौरान समाचार संकलन में हासिल हुए हैं, वे सभी जस के तस रख दिए हैं।

किस्से (कुल 98)  
मौत का हथौड़ाखानदानी भाईवरदा का दरबार
शराब कार का पीछाकलकत्ता से जमानत!वायसी को सुरक्षा
वायसी पर फिल्म और धारावाहिकगले में फंसी गोलीगणपति के बीच बीट चौकी
वरदा का वसूलदाऊद का तस्करी गुरूचोर पर मोर
खून का बदला खूनमुसाफिरखाना पर कब्जामीसा बंदी दाऊद
पठानों से पंगा!सौतेले भाई ने बनाया डॉनजेल में डॉन की भूख हड़ताल
एक मुठभेड़ – तीन कहानियांविदेशी उपन्यास और बैंक डकैतीमुंबई की पहली मुठभेड़
मुंबई में माफिया – अहमदाबाद में अगड़ेदिलीप कुमार – इकबाल मिर्ची के रिश्ते!मि. इंडिया से मि. गैंगस्टर
दाऊद गुजरात में गिरफ्तारयुसुफ बचकाना उर्फ युसुफ अंसारीदाऊद के फिंगरप्रिंट!
जो हारा, जीने का हकदार नहींरमा का गेमकानूनी पंडित राजन
एक थी गीतासलीम उर्फ एसटीडी उर्फ बाबा उर्फ सलीम रिपोर्टरसुभाष ठाकुर की तर्ज पर
कैसेट कांडधर्म परिवर्तन की सजाफजलू-बुदेश गठबंधन
डी का प्लान बीमंजनू, नाना, बब्बी और डीडी की धाक
रवि की नंबरकारी शीला भाभीएक औरत – तीन दोस्त – एक खंजरमचमच बना वसूली भाई
कारोबार में कंपनीनूरा की रेशमाअनीस की मैच फिक्सिंग
नाना का खेल“अब तक 56” की असली कहानीविभीषण की मौत
जज साहब की सांसतडी-कंपनी बीबीएम परशेयर बाजार में सूलेमान
रिश्तेदारों की निगरानीअनीस का बेटाउपभोक्ता उत्पादों का कारोबार
अल कायदा हिट लिस्ट में नानादाऊद का कत्था कारोबारसांसद लाया इकबाल को भारत!
हफ्तावसूली = नानखटाईनौसैनिक पर डी-कंपनी की दबंगईक्रिश का सट्टा बंद
बस्ती के हथियारखैरनार का ब्लैकआऊटडकैत या शूटर
डंपर चोर खबरीफुल टाईम – पार्ट टाईमडी-कंपनी का फर्जी प्यादा
सालेम की फिल्म कंपनीडी-कंपनी का पत्रकार!!जेल वैन के ठाठ
मैं हूं डॉनदाऊद का पोस्टर!दाऊद की गिरफ्तारी!
दाऊद का अंगरक्षकडी के पीछे तीन तिलंगेपहली हत्या – आखिरी मुठभेड़
लापरवाह बंदूकेंएक अधूरा ख्वाब : डी-कंपनी का राजनीतिक दलदाऊद इब्राहिम कासकर हाजिर हो…
बचाओ… ये खा जाएगा…सलीम अरबी की नावेंलंबू पर सीबीआई का साया?
जो पहले गोली चलाए, वो जीतेतंजौर पेंटर से हफ्ता!छोटे मिंया – बड़ा घपला
अरुण गवली का नया ठिकानासालेम की सहेली की आत्महत्याराणा–ठाकुर गठबंधन तिहाड़ में
फिल्मी सितारे ने बनाया माफिया सिताराफजलू-एजाज गठबंधनएक अधूरा ख्वाब : शकील लंबू का चुनाव लड़ना
सालेम को ‘पार्टी’दाऊद ने मांगी माफी!हफ्ते में बीवी!
डीके राव की अजानी गर्लफ्रेंडजेल में लिफाफाजेल में बिके हथियार
जन्मदिन का तोहफा – एक खूनबहनों के नकली नोट 

BOOK LINK: Underworld Dane

Leave a Reply

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh Online Market